राजनीतिक शास्त्र 
Bihar Board News Class 10th

पॉलिटिकल साइंस -राजनीतिक शास्त्र बिहार बोर्ड क्लास 10th

matric subjective Question, 10th Objective Question, janan Question, 10th Importan Question,

राजनीतिक शास्त्र 

(1) सत्ता में साझेदारी से आप क्या समझते हैं इसके क्या लाभ है।

सत्ता की साझेदारी सकता कि सुधारी एक ऐसी कुशल राजनीतिक पद है जो जिसके द्वारा समाज के सभी वर्गों का देश को शासन प्रक्रिया में भागीदारी बनाया जाता है सरकार के तीन अंग विधायिका कार्यपालिका तक न्यायपालिका में भी सत्ता की भागीदारी को अपनाया जाता है जिससे या लाभ है किसी भी समुदाय के बीच में कमी है।

(2) राजनीतिक दल को लोकतंत्र का प्राण क्यों कहा जाता है।

राजनीतिक दल को लोकतंत्र का प्रयोग इसलिए कहा जाता है किसी देश में लोकतंत्र की सफलता के लिए राजनीतिक दलों का होना आवश्यक है भारतीय लोकतंत्र में भी राजनीतिक दलों का महत्वपूर्ण स्थान है इसलिए राजनीतिक दल को लोकतंत्र का प्राण कहा जाता है जनता के प्रतिनिधियों को निर्वाचन राजनीतिक दलों के माध्यम से ही संभव है।

(3) परिवारवाद और जातिवाद बिहार में किस तरह लोकतंत्र को प्रभावित किया हैं।

बिहार में परिवारवाद और जातिवाद लोकतंत्र को कई मायनों में प्रभावित कर रहा है और अधिक बढ़ते ही जा रहा है हाल के दशक को मैं यहां पर परंपरा बनी है कि जिस पर जनप्रतिनिधि के निर्धनता इस्तीफे के कारण कोई सीट खाली हुई हो तो चुनाव को टिकट दे दिया जाए जातिवाद का धार पर बिहार का बंटवारा है यहां के लोग तन के लिए खतरा बनता जा रहा है जो अधिक से अधिक लोकतंत्र में अपनी जातिवाद को अपनाकर किसी को भी सुना जा रहा है।

(4) संघ सूची राज्य सूची समवर्ती सूची से आप क्या समझते हैं।

संघ सूची में शामिल किए गए विषयों में राष्ट्रीय महत्व पर विशेष ध्यान दिया गया इससे जिन विषयों को शामिल किया गया उसमें केवल संसद को कानून बनाने का अधिकार दिया गया है संघ सूची में 97 कितने विषय हैं।

राज सूची से आप क्या समझते हैं।                      

राज सूची में क्षेत्रीय महत्व को विशेष ध्यान दिया गया है इसमें उन विषयों को शामिल किया गया है जो क्षेत्रीय महत्व रखते हैं इन विषयों पर कानून बनाने का अधिकार आज विधानमंडल को प्रदान किया गया है इस सूची में 66 विषय हैं।

समवर्ती सूची से आप क्या समझते हैं।

समवर्ती सूची में सम्मिलित किए गए विषयों पर राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों कानून का निर्माण कर सकती है केंद्र सरकार द्वारा बनाया गया कानूनों को राज्य सरकार द्वारा अनिवार्य रूप से स्वीकार किया जाता है समवर्ती सूची में 47 विषय।

(5) चिपको आंदोलन से आप क्या समझते हैं इसके क्या उद्देश्य थे।

चिपको आंदोलन सुंदर लाल बहुगुणा के द्वारा 1970 के दशक में उत्तराखंड के जंगलों के कुछ भाग में पेड़ों की कटाई हो रही थी तब उत्तराखंड की स्त्री पुरुष ने पेड़ कटाई का विरुद्ध क्या पेड़ को काटने से बचाने के लिए वे लोग पेड़ काटने के पहले ही बिल्कुल चिपक कर पीढ़ी के बाद में समेट लेते थे तक उन्हें काटने से बचा जा सके इसको ही चिपको आंदोलन के नाम से जाना गया और शिव का मिलन से इसका आंदोलन अधिक से अधिक वहां किया गया था |

https://technicalranjay.com/

One Reply to “पॉलिटिकल साइंस -राजनीतिक शास्त्र बिहार बोर्ड क्लास 10th

Leave a Reply

Your email address will not be published.